सबसे बड़ा ख़ुलासा : पुलिस से दूर कांग्रेसी नेताओं के करीब थी हनीप्रीत सोनिया -राहुल के उड़े होश !

नेपाल नहीं, 38 दिन तक यहां छिपी थीं हनीप्रीत…

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत पंजाब पुलिस की पकड़ में आ चुकी हैं. 38 दिनों से फरार चल रही हनीप्रीत को पंजाब पुलिस ने पकड़ने के बाद अब हरियाणा पुलिस को सौंप दिया है. रेप के मामले में 20 साल की सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम की कथित मुंहबोली बेटी हनीप्रीत को कस्टडी में लेने के बाद से पुलिस उनसे घंटों पूछताछ में जुटी रही.

Image result for नेपाल नहीं, 38 दिन तक यहां छिपी थीं हनीप्रीत

आखिर हनीप्रीत अब तक कहाँ थीं?

पुलिस ने हनीप्रीत ने जानना चाहा कि आखिर 38 दिनों तक कहां-कहां रहीं. पुलिस की पूछताछ के दौरान हनीप्रीत ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए. यहाँ लेकिन सबसे बड़ा सवाल आता है कि आज बेशक हनीप्रीत पुलिस की गिरफ्त में हों लेकिन वो अब तक कहाँ थीं? आखिर एक अकेली हनीप्रीत कैसे पूरे देश की पुलिस को चकमा दिए जा रही थीं.

आखिर कैसे अब तक पुलिस को हनीप्रीत मिल ही नहीं पाई. तो हम आपको बता दें कि इस बारे में भी अब एक हैरान कर देने वाला ख़ुलासा हुआ है. दरअसल हनीप्रीत के फ़रार होने और अब मिल जाने की खबर पर एक सनसनीखेज ख़ुलासा करते हुए चैनल टाइम्स नाउ ने बताया है कि हनीप्रीत ने गिरफ़्तारी के बाद हरियाणा पुलिस के सामने खुलासा किया है कि हनीप्रीत बीते कई दिनों से  कांग्रेसी नेताओं के लगातार संपर्क में थी.

हाँ लेकिन वो किन नेताओं के संपर्क में थी इस बात की जानकारी उसने अभी तक नहीं दी है. सूत्र ने यह भी बताया कि पंजाब के कई कांग्रेसी नेताओं ने हनीप्रीत को पुलिस से बचने में मदद की थी. कथित तौर पर कांग्रेसी नेता हनीप्रीत को आगे क्या करना है, कहां जाना है आदि के लिए मदद कर रहे थे. सूत्रों का यह भी कहना है कि हरियाणा पुलिस के भीतरी लोगों द्वारा हनीप्रीत को मदद पहुंचाई जा रही थी.

Image result for नेपाल नहीं, 38 दिन तक यहां छिपी थीं हनीप्रीत
हरियाणा पुलिस हनीप्रीत को कोर्ट में पेश करने से पहले मेडिकल जांच के लिए ले जाएगी. बताते चलें कि हनीप्रीत डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख और बलात्कार मामले में अपराधी गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी है.

The post सबसे बड़ा ख़ुलासा : पुलिस से दूर कांग्रेसी नेताओं के करीब थी हनीप्रीत सोनिया -राहुल के उड़े होश ! appeared first on Hindutva.

<>

Loading...