भारत की एक ऐसी अजीबोगरीब जगह, जहाँ गोरा पैदा होने पर दी जाती है मौत की सजा!

पुराने जमाने में भले ही लोगों को काले गोरे से फर्क न पड़ता हो, लेकिन आज हर माता पिता चाहते हैं कि उनकी आने वाली संतान गोरी पैदा हो. जब कोई महिला गर्भवती होती है तो उसकी संतान गोरी और स्वस्थ हो उसके लिए घर वाले उसे केसर का दूध पिलाते हैं, फल फ्रूट खिलाते हैं. इसके विपरीत कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनको काली-गोरी संतान से कोई फर्क नहीं पड़ता है उनके लिए संतान का होना ही दुनिया का सबसे बड़ा सुख होता है.

source

काले गोरे को लेकर अब तक आपने भेदभाव जैसी खबरें पढ़ी और सुनी होंगी, लेकिन आपने कभी कल्पना भी नहीं की होगी कि भारत में कोई ऐसी जगह भी हो सकती है जहाँ पर किसी के घर में काली संतान पैदा हो जाती है तो उसको मौत के घाट उतार दिया जाता है.

source

भारत में लोगों को समानता का अधिकार प्राप्त है जिसमें साफ़-साफ़ कहा गया है कि कानून के समक्ष सभी लोग समान है और उनके साथ लिंग, जाति, रंग के आधार पर कोई भेदभाव नहीं किया जायेगा लेकिन भारत के केंद्र शासित प्रदेश अंडमान में एक ऐसी प्रथा है जिसके चलते गोरे लोगों को अभिशाप माना है.

जारवा प्रजाति की एक तस्वीर

जानकारी के लिए आपको बता दें, कि इस अजीबोगरीब परंपरा को जारवा जनजाति के ये लोग सदियों से मनाते आ रहे हैं. इस जनजाति की खास बात ये है कि पैदा हुए हर बच्चे को सभी महिलाएं मिलकर अपना दूध पिलाती हैं. इस जनजाति के लोगों का विश्वास है कि इससे समुदाय में शुद्धता बनी रहती है, लेकिन जब किसी बच्चे की माँ विधवा हो जाती है या किसी महिला के पति की मृत्यु हो जाती है तो उस बच्चे को मार दिया जाता है. इस समुदाय में बाहरी लोगों के प्रवेश पर प्रतिबंध है.

The post भारत की एक ऐसी अजीबोगरीब जगह, जहाँ गोरा पैदा होने पर दी जाती है मौत की सजा! appeared first on TadkaNews.

<>

Loading...